आईपीएल 10 मुंबई कैसे जीत गयी-

mi celebration

“ये आईपीएल है भैया, सब अंदाज़े फ़ैल हैं यहाँ भैया”

आईपीएल मतलब 3 घंटे का रोमांच धुँआधार लगातार… कल की बात सुन लो, पहले हुआ ये की बात फाइनल तक आ गयी और मैच लग गया पुणे और मुंबई में, मम्मी कसम कल सच में हवा टाइट हो ली थी. सबको लगा पुणे ने लगातार इस बार 3 मैच में मुंबई लो पटक के मारा तो इसमें भी धुनाई पक्की है लेकिन कुछ भी हो मुंबई स्टार्ट से ही टॉप लिस्ट में थी, इगनोर नहीं किया जा सकता था.

 

ipl10 Final
IPL10 Final

 

अपन को कुछ शुरू से ही ठीक नहीं लगा तो अपन कुर्सी टाइट पकड़ लिए क्योंकि मुंबई पहले बैटिंग करने आई और हुआ क्या बस “आया राम, गया राम” या कहो तो हर एक प्लयेर जो खेलने आया वो आउट वाले को यही बोलता-“देख भाई तू अपन की सीट से दूर रहना, अपन अभी आता है” और ऐसे ही हुआ मतलब आईपीएल फाइनल में कोई 130 का टारगेट देता है क्या… ये तो पुणे ऐसे ही बना डालेगी. कम से कम 230 होना चाहिए था.

 

ipl10 final
RPS wicket clelebration

 

दूसरी टीम पुणे को देखा तो ऐसा लगा की ये तो बिना खेले ही जीत गये यार. टीवी बंद कर दो. पुणे वाले भी शायद ड्रेसिंग वाले रूम में सेलिब्रेट कर लिए होंगे की इस बार तो पक्का जीत गये भाई ये रन तो हम 15 ओवर में ही बना डालेंगे और जैसे ही मैदान में आये तस्वीर ही बदल गयी, मानो कोई भी इसकी उम्मीद मैच देखने के बाद नहीं करेगा और लोगों की दुआ शायद क़ुबूल हो गयी हो.

 

johnson takes smith wicket
johnson takes smith wicket

 

हुआ क्या सुन लो-पूरे 19 ओवर पुणे और बाकि पोने तीन घंटे तक पुणे विन बुत लास्ट ओवर में मुंबई के हाथ किस्मत की चाबी आई नाम है जोनसन और हुआ ये-

पहली बॉल- मनोज तिवारी ने चौका लगाया। अब पुणे को 5 बॉल में 7 रन चाहिए थे।
दूसरी बॉल- मनोज तिवारी आउट हो गए। जॉनसन की बॉल पर पोलार्ड ने उनका कैच लिया। स्ट्राइक पर स्टीव स्मिथ आए। अब पुणे को 4 बॉल में 7 रन चाहिए थे।
तीसरी बॉल और मैच बदल गया- स्मिथ आउट हुए। रायुडु ने उनका कैच लिया। सुंदर स्ट्राइक पर आए। पुणे को 3 बॉल में 7 रन चाहिए थे।
चौथी बॉल- सुंदर ने बाई में एक रन लिया। हैट्रिक से चूके जॉनसन। पुणे को जीत के लिए 2 बॉल में 6 रन चाहिए थे।
पांचवीं बॉल- पंड्या ने क्रिस्चियन का कैच छोड़ा, ऐसा लगा मुंबई ने मैच छोड़ा, पुणे को 2 रन मिले।अब आखिरी बॉल पर 4 रन चाहिए थे।
लास्ट बॉल- क्रिस्चियन ने डीप स्क्वेयर लेग की ओर शॉट लगाया। 2 रन मिले। वे मैच ड्रॉ कराने के लिए तीसरा रन लेना चाहते थे। लेकिन सुचित ने बॉल मुंबई के विकेटकीपर पार्थिव पटेल की ओर फेंकी। क्रिस्चियन रन आउट हो गए। मुंबई 1 रन से जीत गया।

johnson
MI celebrates

ऐसे बना मुंबई चैम्पियन, खूब ड्रामा और मेलोड्रामा के बाद मुंबई ने तीन बार ट्राफी जीत रिकॉर्ड बना डाला… वेल प्लेएड मुंबई इंडियन.

YOU MAY ALSO LIKE